मथुरा के नये बस स्टेंड पर कानून से बेखौफ दबंग अतिक्रमणकारी

On 17/11/2017    | Time: 20:03:17 PM | Source: Mathura Sameer Sen | Visits: 42



मथुरा के नये बस स्टेंड पर कानून से बेखौफ दबंग अतिक्रमणकारी
सार्वजानिक सड़क को बना रखा है अपनी सम्पति, अवैध रूप से शराब विक्रेता ने ही कर रखा है अतिक्रमण



मथुरा (समीर सेन) मथुरा नये बस स्टेन्ड के सामने राजपूत नाश्ता कॉर्नर व अग्रवाल भोजनालय के संचालकों ने नगर निगम व जिला प्रशासन को धता बताते हुए नये बस स्टेंड के पास सरकारी ज़मीन पर ही कर रखा है अतिक्रमण।

उक्त दौनो रेस्टोरेंट संचालक अपने रेस्टोरेंट से 30 फुट ( मुख्य रोड ) तक अपने ही नाम से समौसे, छोले-भटूरे आदि की ठेल-ढ़केल लगवा कर सीधे -सीधे जिला प्रशासन को चुनौती देते नज़र आ रहे हैँ। उक्त अतिक्रमणकारियों की देखा देखी रिक्शा व ऑटो चालकों ने भी बना रखा है अपना स्टेंड, जिसके चलते आये दिन स्थानीय व तीर्थयात्रियों को जाम के झाम व गम्भीर सड़क दुर्घटनाओं से रुबरु होना पड़ता है।

शहर में अतिक्रमण हटाने का कार्य भले ही ज़ोर-शोर से चल रहा हो किन्तु सूत्रों की मानें तो उक्त रेस्टोरेंट संचालकों द्वारा नगर निगम, पर्यटन विभाग व जिला प्रशासन के आलाधिकारियों तक मोटी रक़म हर माह पहुँचा दी जाती है, जिसके चलते उक्त रेस्टोरेंट संचालकों पर अतिक्रमण हटाने के संदर्भ मै कोई वैधानिक कार्यवाही नहीँ होती है। चूँकि मथुरा नया बस स्टेंड पर सेंकड़ों की सँख्या मै श्रद्धालु प्रतिदिन आते हैँ, जिनको अतिक्रमणकारी ऊँचे दामों में निम्न कोटि का भोजन कराकर मज़बूर श्रद्धालुओं के स्वास्थ्य व उनकी भावनाओं को आहत कर अपनी ज़ेब भरते हैँ, जिससे केन्द्र व राज्य सरकार के स्वस्थ्य विभाग व भारत सरकार के स्वच्छता अभियान को चोट तो पंहुचती ही है साथ ही राज्य सरकार के भू-माफ़िया व भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश के सपने को भी दरकिनार करते हुए, मथुरा की तीर्थस्थली व धार्मिक नगरी की मान्यता की छवि को भी धूमिल करने में लगे है, इस सब के बावज़ूद जिला प्रशासन द्वारा दबंग अतिक्रमणकारियों के ख़लिफ़ कोई कार्यवाही न करना निश्चित तौर पर जिला प्रशासन को सन्देह की द्रष्टि में लाकर खडा करता है।