नयति मेडिसिटी पर होने लगा विदेशी मरीजों को भी भरोसा दिल्ली से आधी कीमत में हुआ ऑपरेशन

On 27/06/2017    | Time: 18:59:22 PM | Source: Mathura News Nayati | Visits: 115



नयति मेडिसिटी पर होने लगा विदेशी मरीजों को भी भरोसा दिल्ली से आधी कीमत में हुआ ऑपरेशन
मथुरा । नयति मेडिसिटी में अभी तक देश के विभिन्न भागों हरियाणा, राजस्थान तथा दिल्ली एनसीआर आदि कई प्रान्तों के मरीज लगातार अपना इलाज कराने आ रहे हैं लेकिन अब विदेशों से भी मरीज अपना इलाज कराने नयति मेडिसिटी आना शुरू हो गए हैं।

29 वर्षीय अफगानिस्तान निवासी वजीर अक्का कई सालों से होने वाले सिरदर्द तथा उसके साथ होने वाली उल्टियों से काफी परेशान थे। उनको अक्सर दौरे भी पड़ने लगे थे जिसकी वजह से वे अक्सर बेहोश तक हो जाया करते थे। अफगानिस्तान के आज के हालातों के कारण वहां कोई अच्छा डॉक्टर भी मौजूद नहीं था जो उनको उचित सलाह दे सके। तभी किसी की सलाह पर वे दिल्ली आये जहां उन्होंने एक निजी अस्पताल में अपनी जांच कराई। डॉक्टर ने उन्हें बताया कि उनके सिर में ट्यूमर है जिसका तुरन्त ऑपरेशन की आवश्यकता है। वजीर ऑपरेशन के लिए तो राजी थे लेकिन खर्चा सुनते ही उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। वहां बताया गया खर्च करने की स्थिति वजीर अक्का तथा उनके परिवार की नहीं थी, जिसके बाद वे हताश होकर वापस अपने देश जाने का मन बना चुके थे। तभी उन्होंने किसी से नयति मेडिसिटी के बारे में सुना। उम्मीद की एक किरण लेकर वे नयति आये जहां न्यूरो सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ. एसके गुप्ता ने जांच करने के बाद बताया कि उनके सिर में 42×36×32 एमएम का ट्यूमर है। जिसको यदि ऑपरेशन करके निकाल दिया जाय तो वजीर बिल्कुल ठीक हो सकते हैं। ऑपरेशन में होने वाला खर्च दिल्ली के खर्च से आधा होने के कारण वजीर की आंखों में चमक आ गयी और उन्होंने अपना ऑपरेशन नयति मेडिसिटी में कराने का फैसला कर लिया। ऑपरेशन के बाद वजीर बिल्कुल स्वस्थ हैं।

इस अवसर पर नयति मेडिसिटी की चेयरपर्सन नीरा राडिया ने कहा कि हमने नयति मेडिसिटी ब्रजवासियों की सेवा तथा उनके इलाज के लिए शुरू किया था। धीरे धीरे आसपास के राज्यों के मरीज भी नयति मेडिसिटी पर भरोसा करके आने लगे। एयर एम्बुलेंस के द्वारा भी कई मरीज अपना इलाज कराने आये और स्वस्थ होकर गए। आज हम विश्व का बेहतरीन इलाज महानगरों से लगभग आधी कीमत में दे पा रहे हैं। हम विश्वस्तरीय इलाज वाजिब दाम पर देने के लिए प्रतिबद्ध हैं और उसमें हम सफल भी हो रहे हैं। मुझे बहुत प्रसन्नता का अनुभव हो रहा है कि हमारे यहां आया पहला विदेशी नागरिक अपना सफल ऑपरेशन कराकर वापस अपने देश जा सका है।

नयति मेडिसिटी के न्यूरो सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ. एस के गुप्ता ने बताया कि वजीर की सीटी स्कैन तथा एमआरआई कराके मालूम हुआ कि इनके सिर के बाएं हिस्से में 42×36×32 एमएम का ट्यूमर है। जिसे बिनाइन (ब्रेन ट्यूमर) बोलते हैं और ये ऑपरेशन के बाद बिल्कुल ठीक हो सकता हैं। उन्होंने इसके लक्षणों के बारे में बताते हुए कहा कि रोज सुबह सिर दर्द जिसके साथ उल्टी आती हो, सिर दर्द के साथ बेहोशी या दौरे, दिखाई देने में परेशानी, सिर दर्द के साथ सुनने में परेशानी, सिर दर्द के साथ चलने में परेशानी या किसी भी हाथ या पैर में कंपकंपाहट या कमजोरी ब्रेन ट्यूमर के लक्षण हो सकते हैं, और यदि इसका समय रहते इलाज करा लिया जाए तो यह बिल्कुल सही हो सकता है। वजीर अक्का भी इसी रोग से पीड़ित थे। ऑपरेशन के बाद अब वे बिल्कुल स्वस्थ हैं।